KISI SE PICHA CHHUDANE KA UPAY .

इस दुनिया में शायद ही कोई ऐसा होगा, जो ज़िंदगी के किसी मुकाम पर कभी न कभी किसी से अपना पीछा छुड़ाने का प्रयत्न नहीं किया होगा|हम इस जीवन में जो कुछ भी करते हैं उसे वापस से पूर्ववत नहीं कर सकते। यही इस जीवनरुपि खेल की खूबसूरती है।

किसी से पीछा छुड़ाने का उपाय


किसी से पीछा छुड़ाने का उपाय, दोस्तों आज हम आपको प्रेमिका से पीछा छुड़ाने का उपाय और प्रेमी से छुटकारा पाने के उपाय बतायेगे। इन्हे दुश्मन से पीछा छुड़ाने के उपाय भी कहा जाता है. आप हमारे ये उपाय आज ध्यान से पढ़े

किसी से पीछा छुड़ाने का उपाय
किसी से पीछा छुड़ाने का उपाय


बेशक आप अपने पूरे जीवन में किसी व्यक्ति को नजरअंदाज करने की कोशिश कर सकते हैं, लेकिन इसका मतलब केवल यह है कि आप उस व्यक्ति को अपने जीवन से हटा देने के लिए चुन रहे हैं, परंतु वह व्यक्ति अभी भी आपके जीवन में स्थायी स्थान रखेगा।

किसी व्यक्ति की स्मृति को संजोए रखना कभी-कभी बहुत कठिन होता है, जो अब हमें या हमारे अन्य शर्तों को नहीं चाहता है। इस प्रकार हमें जीवन के इस खेल में भगवान द्वारा कुछ हथियार भी दिए गए हैं, जिनहे आजमा कर हम किसी की यादों से अपना पीछा छुड़ा सकते हैं|

इसलिए, यदि आप वास्तव में किसी को अपने जीवन से निकालने की इच्छा रखते हैं, तो बस अपने मन को बदल दें और इसके लिए जरूरी हैं कि हमअपनी इच्छा-शक्ति को मजबूत बनाए|

इन यादों के अलावा भी व्यक्ति के जीवन में कई बार बहुत कुछ घटता हैं| आज हम इस लेख में किसी से पीछा छुड़ाने, चाहे वह कोई व्यक्ति हो अथवा किसी व्यक्ति की यादें, के ज्योतिष उपायो की चर्चा करेंगे|

प्रेमिका से पीछा छुड़ाने का उपाय
प्रेमिका से पीछा छुड़ाने का उपाय, पति पत्नी का रिश्ता बहुत नाजुक होता हैं,ऐसे में यदि कोई परायी लड़की पति के जीवन में आ जाए तो शादीशुदा जीवन में तूफान आ जाता हैं| अपनी शादीशुदा ज़िंदगी को बचाने के लिए स्त्रियाँ ज्योतिष उपायों का सहारा लेकर प्रेमिका से अपने पति का पीछा छुड़वा सकती हैं| ये ज्योतिष उपाय कुछ इस प्रकार से हैं:-

मंत्र- “ॐ काम्या पति वासे मान्य:तात, वशी करे मम पति मोरे, ममहृदयेदेव|”

विधि-इस मंत्र को बिस्तर छोड़ने से पहले 21 दिनों तक नियमित रूप से जप करना चाहिए। यदि संभव हो तो मंत्र का जप तब करें जब पति आपकी तरफ से मुँह कर केसो रहा हो। लेकिन यह सुनिश्चित करें कि पति को इस पद्धति के कार्यान्वयन के बारे में कभी भी पता नहीं होना चाहिए। इस मंत्र के साथ जो ऊर्जा निकलती है, वह आसानी से पति के शरीर में मिल जाएगी और आपको उसके दिमाग / दिल में जाने वाली हर चीज का पता चल जाएगा। यदि आप कुछ भी बदलना चाहती हैं, तो आप कर सकती हैं क्योंकि अब आपके पास आपके पति पर पूर्ण नियंत्रण है। इस प्रकार के नियंत्रण से आप अपने पति को उसके प्रेमिका के जाल से आसानी से निकाल लेंगी|
इस प्रयोग को कृष्ण पक्ष के अष्टमी को रात्री 11 बजे प्रारम्भ करे| लाल वस्त्र धरण करदक्षिण दिशा में मुँह कर के बैठ| तत्पश्चात अपने समक्ष दुर्गा यंत्र स्थापित करे|यंत्र के सामने पति की प्रेमिका की तस्वीर को रख कर हाथ में जल लेकर संकल्प करे- “ मैं अमुक साधिका अमुक स्त्री से अपने पति के प्रति उच्चाटन हेतु संकल्प ले रही हूँ, ताकि भविष्य में वह मेरे अथवा मेरे परिवार की सुख-शांति को क्षति न पहुंचा सके, ऐसा माँ दुर्गा मुझे आशीर्वाद दें|” संकल्प के बाद जल को भूमि पर छिड़क दें| इसके बाद निम्न मंत्र का 51 माला जाप करे|
मंत्र- “ॐ दुँ दुर्गाये अमुकं उच्चाटयउच्चाटय शीघ्रं सर्व शत्रु बाधा नाशय नाशय फट स्वाहा|”

इस साधना को तीन दिनों तक लगातार दोहराने के पश्चात यंत्र को पुजा स्थल में स्थापित कर दें| माँ दुर्गा के इस यंत्र की तेज की वजह से आपके घर की सारी नकारात्मक शक्तियों का नाश हो जाएगा और आपके पति अपनी प्रेमिका के प्रेम जाल को तोड़ कर वापस अपने गृहस्थी में मन लगानेलगेंगे|

प्रेमी से छुटकारा पाने के उपाय


प्रेमी से छुटकारा पाने के उपाय, प्रेम जीवन का सार है। यह हमारी आत्मा का प्राणस्रोत है जो हमें जीवित रखती है। हम में से प्रत्येक को कभी न कभी किसी न किसी से प्यार अवश्य हो जाता है। लेकिन नियति का हमारे प्यार को विकसित करने का अपना तरीका है। हम में से कुछ को वह व्यक्ति मिलता है जिससे हम प्यार करते हैं; कुछ को एक पक्ष के प्रेमी के रूप में रहना पड़ता हैं|

जो लोग किसी से प्यार करते हैं और उसे जीवन साथी के रूप में प्राप्त करते हैं वे सबसे भाग्यशाली हैं। परंतु कई बार प्रेमी आपस में मिल नहीं पाते हैं| पारिवारिक दवाब अथवा अन्य कारणो से उन्हे किसी और से शादी करना पड़ता हैं| ऐसी स्थिति में कई बार आपका पुराना प्रेमी आपको भावनात्मक रूप से परेशान करते हैं| ऐसे प्रेमी से छुटकारा पाने के लिए आप ज्योतिषीय उपचार का सहारा ले सकते हैं,जो की इस प्रकार से हैं:-

यदि आप किसी से अपना पीछा छुड़वाना चाहती हैं,तो शनिवार रात्री के समय सींक वाली झाड़ू को लाल कपड़े में काले धागे से बांध कर उस व्यक्ति जिससे आप अलग होना चाहती हैं, उसके घर के बाहर किसी कोने में खड़ा कर दें|
अब झाड़ू के सामने सरसों के तेल में दीपक जलाए| इसके बाद निम्न मंत्र का जाप 108 बार करे|


मंत्र- “ॐ क्रीं क्रीं क्रीं ह्रीं खं स्फोटयकालरात्रि चंडिकाये स्वाहा:|”

ध्यान रहे इन सब कार्यो को इतनी तेजी से करे कि कोई देख न ले| पहली बार मंत्र जाप के बाद वहा से निकाल जाए और बाकी मंत्र का जाप रास्ते में घर लौटते हुए पूरा करे|रास्ते में यदि कोई आवाज़ लगाए तो मुड़ कर ना देखे ना जवाब दे|


इस उपाय को करने से आपके प्रेमी के मन में आपके प्रति द्वेष उत्पन्न हो जाएगा| इस तरह से आप उस व्यक्ति से पीछा छुड़ाने में कामयाब हो जाएंगी|
इस बात का विशेष खयाल रखे कि इस कार्य को करते हुए कोई आपको देखे नहीं| सम्पूर्ण कार्य बिल्कुल गुप्त तरीके से होना चाहिए|


लौंग के द्वारा टोटका:- तीन लौंग के साथ टोटका कर के भी हम किसी से अपना पीछा छुड़ा सकते हैं| इसके लिए रात्री के समय तीन लौंग को अपनी मुट्ठी में बंद कर के जिससे अपना पीछा छुड़ाना चाहते हैं,उसका नाम लेकर 21 बार फूँक मारे| सुबह इन लौंगों को जला दें| 8 दिनों तक लगातार इस प्रक्रिया दुहराने से वह व्यक्ति खुद ब खुद आपका पीछा छोड़ देगा|


दुश्मन से पीछा छुड़ाने के उपाय
दुश्मन से पीछा छुड़ाने के उपाय, कभी-कभी हम बिना किसी कारण के किसी को अपना दुश्मन बना लेते हैं और इससे आपका जीवन प्रभावित होता हैं| ऐसे परिदृश्य में, हम सभी चाहते हैं कि हम किसी भी प्रकार से इस समस्या से मुक्ति मिले|दुश्मनों से निपटने के लिए सबसे आसान तरीकों में से एक है उनसे छुटकारा पाना।

इसका सीधा सा मतलब है कि आप उनसे हमेशा के लिए दूरी बना लेते हैं ताकि वे आपके जीवन में हस्तक्षेप न करें और आपको हर संभव तरीके से प्रभावित करना बंद कर दें। दुश्मनों से छुटकारा पाने के लिए कुछ प्रभावी ज्योतिषीय उपाय नीचे दिए गए हैं:-

लाल या काले धागे में शम्मी पेड़ की जड़ों से बनी माला पहनें। आपको इसे अपनी गर्दन के चारों ओर शनिवार या सोमवार को पहनना चाहिए। माला धारण के बाद इस विधि को रात में करे:
आपको हल्दी से बना एक मनका चाहिए।पीले कपड़े पहन कर पीले रंग की चटाई परपूर्व दिशा में मुंह करके बैठ जाए|
तत्पश्चात 108 बार लगातार “ॐ हरीमा”का जप करें।
इस प्रक्रिया को नियमित रूप से करें और अंततः आपका दुश्मन आपके जीवन से चला जाएगा।
नीचे दिये हुए उपाय का उपयोग तब किया जाता है जब आपको अचानक पता चलता है कि आपके कई दुश्मन हैं:
आपको लोहे की एक छोटे से भाग, 25 मीटर काले कपड़े, 1.25 किलोग्राम तिल कातेल और उड़द की दाल की आवश्यकता होती है।प्रत्येक वस्तु के लिए अलग से छोटी पोटली बनाएं।
निम्नलिखित मंत्र का जप करते हुए अपने सिर के चारों ओर सभी पोतलियों को बारी बारी से घुमाये|
मंत्र– “ॐ शाउमा शतारो विनाशाया नम: नमोह|”

फिर इन पोटली को भगवान शनि को अर्पित कर दें|
आप इस विधि को सप्ताह के किसी भी दिन कर सकते हैं और आप जितनी बार चाहें इस प्रक्रिया को दोहरा सकते हैं। इस विधि को करने से दुश्मन चाहे कितना भी ताकतवर क्यूँ ना हो, आपका पीछा छोड़ देगा|
उपयुक्त वर्णित सभी विशिष्ट उपाय, मंत्र और टोटके हैं जिन्हें आप किसी से छुटकारा पाने के किए कुशलता से प्रयोग कर सकते हैं।आप जो चुनते हैं वह पूरी तरह आप पर निर्भर करता है। अत: एक निश्चित निर्णय लेने से पहले ठीक से सोचें।

यदि आप वास्तव में अपने समस्या का समाधान चाहते हैं तो आपको उचित शोध करना चाहिए। आप ज्योतिषियों से बात करने के साथ-साथ अपनी समस्या के बारे में क्या करना है, इस पर स्वयं भी सतर्क रहे| जानकार द्वारा यह सलाह दी जाती है कि आप अपने अंतर्ज्ञान का पालन करें।