You are currently viewing धन प्राप्ति साधना। यह मंत्र- एक बार जपने से धन की समस्या होगी दूर।
yah-mantra-ek-baar-japne-se-dhan-kee-samasya-hogee-door-

धन प्राप्ति साधना। यह मंत्र- एक बार जपने से धन की समस्या होगी दूर।

धन प्राप्ति साधना

एक सुखी जीवन के लिए सबसे ज्‍यादा जरूरी होता है धन लेकिन ऐसे कम ही लोग होते हैं जो अपनी समृद्धि से संतुष्‍ट हों। कहते हैं कि पैसों से सब कुछ खरीदा जा सकता है, कुछ हद तक ये बात सही भी है। अगर आपके पास पैसा है तो समाज में आपका मान-सम्‍मान बढ़ता है और लोग आपसे बात करना चाहते हैं। लेकिन दुर्भाग्‍यवश सबकी किस्‍मत में धन का योग नहीं होता। कुछ लोगों का तो पूरा जीवन ही मेहनत करते हुए निकल जाता है लेकिन उनके पैसों में बरकत नहीं हो पाती है।

गुप्त धन पाने के लिए क्या करना चाहिए?
घर में धन की वृद्धि कैसे हो?
धन की वर्षा कैसे होती है?
लक्ष्मी प्राप्ति के लिए क्या करें?

ज्‍योतिष शास्‍त्र में धन प्राप्‍ति के कई अचूक उपायों के बारे में बताया गया है। इन उपायों का प्रयोग कर आप अपने जीवन को समृद्धि से भर सकते हैं। ये उपाय न केवल धन प्राप्‍ति में आपकी मदद करते हैं बल्कि आपके पैसों में भी बरकत लाते हैं। तो चलिए पहले हम आपको बताते हैं कि कुंडली में ग्रहों की कैसी स्थिति में अचानक धन प्राप्‍ति के योग बनते हैं।

– कुंडली का दूसरा भाव धन का भाव कहलाता है। कुंडली का दूसरा भाव और उसका अधिपति ग्रह जातक के धन संचय की ओर संकेत करता है। कुंडली का चौथा भाव सुखी जीवन के बारे में बताता है और पांचवा, छठा, सातवां, ग्‍यारहवां और बारहवां भाव धन से संबधित होता है।

– यदि कुंडली में दूसरे भाव में कोई शुभ ग्रह बैठा हो तो उस जातक को पैतृक संपत्ति से धन की प्राप्‍ति होती है।

– दूसरा और ग्‍यारहवां भाव प्रबल हो तो वह जातक अपनी मेहनत से धन अर्जित करता है। उसे अपने बिजनेस में अच्‍छा पैसा कमाने का मौका मिलता है।

– कुंडली में ग्‍यारहवें और बारहवें भाव के बीच अच्‍छा संबंध बन रहा हो तो उस जातक की आर्थिक स्थिति काफी बढिया रहती है।

– पांचवे भाव में चंद्रमा बैठा हो तो उस जातक को सट्टे या लॉटरी जैसे मार्गों से अचानक धन की प्राप्‍ति होती है।

– कारक ग्रह की दशा से गुज़र रहे जातकों को भी कभी धन की कमी नहीं रहती।

– यदि बारहवें भाव में शुक्र बैठा हो तो वह व्‍यक्‍ति जीवन में एक बार करोड़पति बनने का सुख जरूर भोगता है।

चलिए अब जानते हैं धन प्राप्‍ति के अचूक टोटकों के बारे में -:

– लाल रंग के धागे में सातमुखी रुद्राक्ष को गले में धारण करने से धन प्राप्‍ति के योग बनते हैं।

– सवा पांच किलो आटा और सवा पांच किलो गुड़ लेकर उसका मिश्रण तैयार करें। अब इस मिश्रण का आटा मांडकर रोटियां बनाएं। गुरुवार के दिन शाम के समय गाय को ये रोटियां खिलाएं। ये उपाय आपको तीन गुरुवार तक लगातार करना है। इस उपाय को करने से आपके घर में धन का आगमन होगा।

– कमलगट्टे की माला पर धन की देवी मां लक्ष्‍मी की कृपा होती है। अत: ऋणमुक्‍ति या धन प्राप्ति के लिए कमलगट्टे की माला से रोज़ एक माला ‘ॐ श्री ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ॐ महालक्ष्मयै नमः’ मंत्र का जाप करें।

– अगर आप पैसा कमाना चाहते हैं तो मां लक्ष्‍मी के चित्र के सामने 11 दिनों तक अखंड ज्‍यो‍त जलाएं। 11वें दिन 11 कन्‍याओं को खीर पूरी का भोजन कराएं और एक सिक्‍का और मेहंदी भेंट में दें।

– कौडियां, मां लक्ष्‍मी का प्रतीक मानी जाती हैं। 5 कौडियां लेकर उन्‍हें हल्‍दी के पानी में भिगोकर एक लाल कपड़े में बांध दें। अब इस लाल रंग की पोटली को अपनी तिजोरी या धन रखने के स्‍थान पर रखें। इस उपाय से आपको अवश्‍य ही धन लाभ होगा।

– प्रत्‍येक शनिवार को पीपल के पेड पर जल चढ़ाएं और उसकी पूजा करें। इससे आपकी सुख-समृद्धि बढ़ेगी।

– वास्‍तु के अनुसार घर के ईशान कोण को खाली रखना चाहिए। इस दिशा में एक जल से भरा पात्र रखें। समय-समय पर इस पात्र का जल बदलते रहें। इस उपाय से आपको धन लाभ होगा और बरकत रहेगी।

– केसर से 5 लघु नारियल पर तिलक लगाएं। तिलक लगाते समय 27 बार ‘ऐं ह्रीं श्रीं क्लीं’ मंत्र का जाप करें। इस उपाय से आपके ऊपर मां लक्ष्‍मी की कृपा होती है और आपका घर धन-धान्‍य से भर जाता है।

– धन लाभ की कामना रखते हैं तो स्‍वास्तिक का ये उपाय आपकी मनोकामना को पूरा कर सकता है। अपने घर की दहलीज़ पर दोनों तरफ स्‍वास्तिक बनाएं। इसके ऊपर चावल की ढेरी लगाएं और उस पर कलावा बंधी एक-एक सुपारी रखें।

– यदि आप आर्थिक तंगी से गुज़र रहे हैं तो शनिवार के दिन सुबह स्‍नान के बाद पीपल के एक पत्ते पर सफेद चंदन से गायत्री मंत्र लिखें। अब इस पत्ते को अपने घर में धन रखने के स्‍थान या तिजोरी में रखें। ध्‍यान रहे यह पत्ता किसी अन्‍य या बाहर के किसी सदस्‍य को दिखाई नहीं देना चाहिए। हर शनिवार को पीपल के पत्ते का ये उपाय दोहराते रहें।

– अगर आप अपना अटका हुआ पैसा वापिस पाना चाहते हैं तो प्रात:काल स्‍नान के पश्‍चात् एक लोटे में स्‍वच्‍छ जल भरें और उसमें 5 गुलाब के फूल डालें। अब इस जल से सूर्य देव को अर्घ्‍य दें और सूर्य देव से अपनी समस्‍या के निवारण की कामना करें। शुक्‍ल पक्ष के किसी भी सोमवार को इस उपाय को शुरु कर 21 दिनों तक लगातार करें।

– लोहे के बर्तन में पानी, शक्‍कर, घी और दूध भरें। पीपल के पेड़ के नीचे खड़े होकर पेड़ की जड़ में इस पानी को चढ़ाएं। ये उपाय धन से संबंधित सभी परेशानियों को खत्‍म करेगा।

– अगर आपको बार-बार पैसों का नुकसान हो रहा है तो परिवार के सदस्‍यों के सिर से सात बार काले तिल उतार कर उत्तर दिशा में फेंक दें। इससे धन की हानि होना बंद हो जाएगा।

– आर्थिक तंगी से गुज़र रहें हैं तो कुत्ते को दूध पिलाएं और अपने घर में सोने का चौरस सिक्‍का रखें। धीरे-धीरे आपकी आर्थिक तंगी में सुधार आने लगेगा।

– अगर आप अपने व्‍यापार में बहुत पैसा कमाने चाहते हैं तो धन की देवी मां लक्ष्‍मी के चित्र के आगे नौ बत्तियों वाला घी का दीया जलाएं। इस उपाय को करने से आय के नए स्रोत भी बनेंगें और व्‍यवसाय में बढ़ोत्तरी होगी।

  • धन प्राप्ति साधना,यह मंत्र- एक बार जपने से धन की समस्या होगी दूर,गुप्त धन पाने,के लिए क्या करना चाहिए?,घर में धन की वृद्धि कैसे हो?,धन की वर्षा कैसे होती है?,लक्ष्मी प्राप्ति के लिए क्या करें?,achanak dhan prapti ke mantra,महाकाली धन प्राप्ति मंत्र,गड़ा धन निकालने का मंत्र,लक्ष्मी प्राप्ति मंत्र,अपार धन प्राप्ति के योग,गायत्री मंत्र से धन प्राप्ति,स्वर्ण प्राप्ति मंत्र,धन प्राप्ति की साधना

Any other Enquiry Call and Wahtsapp

+91 9950528152

You Want to Buy this Product discuss with pandit ji he will guide you how to buy and use this product.

Leave a Reply