जूतों से वशीकरण कैसे करे। – चप्पल से वशीकरण कैसे होता है?

जूते चप्पल से वशीकरण जूते चप्पल से वशीकरण, व्यक्ति के जीवन पर उसके द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली हर चीज का कोई न कोई प्रभाव ज़रूर होता है| यदि जूते चप्पलों की बात की जाए तो ये भी किसी व्यक्ति की हालत बयां कर सकते हैं| कोई विद्वान तो सिर्फ व्यक्ति के जूते चप्पलों को देखकर ही उसके मिजाज़ और किस्मत के बारे में सटीक जानकारी दे देते हैं| कुछ मनोवैज्ञानिक भी जूतों के अध्ययन से किसी इंसान के व्यक्तित्व का अंदाज़ा लगाने की कोशिश करते हैं| जूते से प्रचंड वशीकरण इसके लिए आपको करना यह है कि ‌‌‌अपने प्रेमिका का फोटो लाएं और उस फोटो को 108 बार चुमना है और उसका नाम लेना है। उसके…

0 Comments

धूमावती मंत्र साधना प्रयोग। Vichitra dhumavati mantra prayog. मां धूमावती कौन है? – धूमावती साधना कैसे करें?

धूमावती का मंत्र : मोती की माला से नौ माला 'ऊँ धूं धूं धूमावती देव्यै स्वाहा:' मंत्र का जाप कर सकते हैं। जाप के नियम किसी जानकार से पूछें। उत्पत्ति कथा : कहते हैं कि एक बार माता पार्वती को बहुत तेज भूख लगी। धूमावती मंत्र साधना प्रयोग धूमावती मंत्र साधना प्रयोग, क्या आप लोगों ने 10 महाविद्याओं का नाम सुना है तो हम आपको बता दें कि उन 10 महाविद्याओं में से सातवां नाम धूमावती मंत्र साधना का आता है। जैसा कि हम जानते हैं कि अभी नवरात्रि चल रहा है चैत्र नवरात्रि और धूमावती मंत्र साधना का प्रयोग चैत्र नवरात्रि में ही किया जाता है। धूमावती मंत्र साधना धूमावती माता के लिए किया जाता है यह धूमावती माता बाकी सारी…

0 Comments
Read more about the article धूमावती मंत्र साधना प्रयोग।  Vichitra dhumavati mantra prayog. मां धूमावती कौन है? – धूमावती साधना कैसे करें?
Dhumavati-Beej-Mantra-jyotish-totke

माता पिता को वश में करने के उपाय। – माता-पिता को प्रेम विवाह के लिए कैसे बनाएं ।

किसी को अपने वश में करने के लिए क्या करें?नाम से वशीकरण कैसे किया जाता है?कागज पर नाम लिखकर वशीकरण कैसे करें?पति बात नहीं माने तो क्या करना चाहिए? माता पिता को वश में करने के उपाय - सबसे सरल मंत्र । माता पिता को वश में करने के उपाय, हमारे माता पिता हमेशा हमारा हित चाहते हैं| लेकिन जब हम बड़े होने लगते हैं तो अपने निर्णय खुद लेने की कोशिश करते हैं| ऐसे में माता पिता से टकराव स्वाभाविक हो जाता है| लाख कोशिश करने पर आपके माता पिता आपकी किसी बात पर सहमत नही हो पाते| आप उनसे बात करते हैं, झगड़ते हैं लेकिन कोई समाधान नही मिलता है| हो सकता है…

0 Comments
Read more about the article माता पिता को वश में करने के उपाय।  – माता-पिता को प्रेम विवाह के लिए कैसे बनाएं ।
Remedies-to-subdue-parents-All-Problems-Specialist

प्यार में पागल करने का वशीकरण मंत्र – Vashikaran Mantra to Get Love Back.

प्यार में पागल करने का वशीकरण मंत्र प्यार में पागल करने का वशीकरण मंत्र, दोस्तों आपने और हमने यह बात अवश्य सुना होगा कि जब भी व्यक्ति प्यार में पड़ता है तो वह पागल हो जाता है यह बात पूरी तरह से सच है कि जब भी कोई व्यक्ति किसी के प्रेम में पड़ता है तो व्यक्ति पागल इसलिए हो जाता क्योंकि प्रेम में पड़कर ना व्यक्ति को भूख लगती है ना प्यास लगती है सिर्फ सपने आते हैं और प्रेमा लाभ के ख्याल आते हैं। आप सब सोच रहे होंगे कि आज हम इन सब विषय पर बातें क्यों कर रहे हैं तो हम आपको बता दें कि दोस्तों आज हम प्रेम के ऊपर ही कुछ…

0 Comments
Read more about the article प्यार में पागल करने का वशीकरण मंत्र – Vashikaran Mantra to Get Love Back.
MARRIAGE SPECIALIST-JYOTISH-TOTKE-FOR MARRIAGE-PROBLEM

काला जादू का तोड़। काले जादू से हैं परेशान, जादू टोने क्या होता है?

काला जादू का तोड़ काला जादू का तोड़, दोस्तों काला जादू के बारे में आप सबने सुना ही हो शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति है जो काला जादू ब्लैक मैजिक के बारे में नहीं जानता है। हर इंसान बच्चे से लेकर बड़े तक सभी को इस जादू के बारे में पता होता है पर क्या यह जादू सचमुच काला होता है आइए जानते हैं इसके बारे में और उसके तोड़ के भी बारे में जानते हैं। दोस्तों काला जादू बहुत ही खतरनाक जादू है यह जादू बुरे  मकसद से किया जाता है यह जादू खास करके आपके शत्रु आपके ऊपर कर सकते हैं। जादू से बाहर निकलने का तोड़ तो अवश्य ही है ज्योतिषशास्त्र में तांत्रिकों के पास…

0 Comments
Read more about the article काला जादू का तोड़। काले जादू से हैं परेशान, जादू टोने क्या होता है?
kala-jadu-hindi-me-janakari-kale-jadu-ko-todne-ke-upay

दुश्मन को खत्म करने का टोटका। – Jyotish Totka to destroy the enemy.

दुश्मन को खत्म करने का टोटका दुश्मन को खत्म करने का टोटका, हर किसी की तरक्की की राह में रोड़े अटकाने वाले दुश्मनों की कमी नहीं होती है। कई बार दुश्मनों का आतंक काफी हद तक बढ़ जाता है, जिसकी वजह से कई काम बिगड़ जाते हैं, कुछ दुश्मनी पति-पत्नी या प्रेमी-प्रेमिका की निजी जिंदगी और परिवारिक खुशीं में भी खलल डालते हैं। दुश्मन का कोई जाति-धर्म या लिंग नहीं होता है। वे कहीं भी, कभी भी घात लगा सकते हैं। यदि आप भी किसी दुश्मन से परेशान हैं और उन्हें खत्म करना चाहते हैं तो नीचे बताए गए कुछ टोटके को आजमा सकते हैं। ये टोटके वैदिक रीति और तांत्रिक साधनाओं के अतिरिक्त जादू-टोने वाले…

0 Comments
Read more about the article दुश्मन को खत्म करने का टोटका। – Jyotish Totka to destroy the enemy.
dushman-ko-khatam-karne-ka-totka-jyotish-totke

नींबू से खतरनाक वशीकरण – vashikaran from lemon.

नींबू से खतरनाक वशीकरण नींबू से खतरनाक वशीकरण, सब्जी और फल, दोनों ही श्रेणियों में एकसमान पहचान रखने वाला हरा-पीला रंग का नीबू अपने खट्टे स्वाद के कारण जाना जाता है। यह अगर मन-मस्तिष्क को खटास से भर देता है, तो इसकी उपयोगिता के पीछे मिठास अर्थात सकारात्मकता की भावना भी छिपी होती है। यह खाने-पीने की विचित्रताओं से भरा होता है, जबकि इससे इंसान की मनोदशा भी तेजी से व्यापक तौर पर प्रभावित होती है। नींबू से खतरनाक वशीकरण. यह असर ठीक उसी तरह उतनी ही तेजी से होता है, जितना तीब्र प्रभाव जीभ पर पड़ने वाली एक बूंद का होता है। चेहरे की भाव-भंगिमा और मनोदशा को बदल डालने वााला यही विशेष गुण किसी…

0 Comments
Read more about the article नींबू से खतरनाक वशीकरण – vashikaran from lemon.
shatru-ka-putla-banakar-naast-kese-kre-Secret-Enemy-Destroyer-Totke-jyotish-totke.

सर्वजन वशीकरण टोटके – Sarvajan Vashikaran Totke – सर्व-जन आकर्षण मंत्र – नाम लिखकर वशीकरण

सर्वजन वशीकरण टोटके, दोस्तों आज हम आपको सर्वजन मोहन मंत्र और महा सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना के बारे मे बतायेगे. आप हमारा ये पोस्ट सर्वजन वशीकरण तिलक धयान से पढ़े. सर्वजन वशीकरण टोटके और मंत्र को बहुत ही प्रभावशाली माना गया है और यह करने में भी बहुत आसान होता है इसे कोई भी व्यक्ति कर सकता है। आप अगर चाहो तो किसी तांत्रिक या बाबाओं की मदद से भी कर सकते हो सर्वजन वशीकरण टोटके मगर आज हम आप को उन बाबाओं और तांत्रिक वाला ही कुछ आसान और सरल वशीकरण टोटका बताएंगे जिसे आप अपना कर किसी भी व्यक्ति पर उपयोग कर सकते है। तो चलिए जानते है उन सरल और आसान वशीकरण…

0 Comments
Read more about the article सर्वजन वशीकरण टोटके – Sarvajan Vashikaran Totke – सर्व-जन आकर्षण मंत्र – नाम लिखकर वशीकरण
srawjan-vashikaran-totka-best-astrologer-jyotish-totke

संतान प्राप्ति के योग – पुत्र प्राप्ति के योग कैसे बनते हैं ?

संतान प्राप्ति के योग संतान प्राप्ति के योग – संतान प्राप्ति में आपकी कु्रडली में स्थित ग्रहों की दशा का बहुत महत्वपूर्ण स्थान होता है। कुंडली के द्वारा यह जानना संभव है कि आपके भाग्य में कितनी संतानों का सुख है। यदि आपके जीवन में संतान प्राप्ति में कोई बाधा आ रही है, तो कुंडली में स्थित ग्रहों की स्थिति द्वारा उस बाधा के विषय में भी जाना जा सकता है। आपकी कुंडली में ग्रहों की स्थिति के बनने के भी अनेक कारण होते हैं, जिन्हें समझनें के लिए आइए कुछ उदाहरण देखते हैं – यदि आपकी कुंडली में गुरू पाँचवें भाव में स्थित है और वह मज़बूत स्थिति में हैं, तो आपकी होने वाली संतान सदैव आपकी आज्ञा का पालन करने वाली होगी।यदि आपकी कुंडली में पंचमेश बलवान है और वह लग्न, पंचम या नवम भाव में विराजमान है, साथ ही किसी भी पापी ग्रह की कुदृष्टि दस पर नहीं हैं, तो संतान उत्पत्ति में कोई बाधा नहीं आती।कुंडली में यदि जन्म लग्न और चंद्रमा लग्न पाँचवें भाव के स्वामी बृहस्पति यदि किसी शुभ स्थान पर स्थित हैं, तो आपको अवश्य ही संतान की प्राप्ति होगी।ज्योतिषशास्त्र में ऐसा माना जाता है कि यदि पंचमेश स्वगृही होने के साथ–साथ शुभ गृह भी हो, तो यह स्थिति संतान प्राप्ति के लिए अनुकूल मानी जाती है।ज्योतिषशास्त्र के अनुसार यदि कुंडली में बृहस्पति मज़बूत हो और लग्न का स्वामी पाँचवें भाव में विराजमान हो, तो सह स्थिति भी संतान कारक कहलाती है।यदि एकादश भाव में बुध, शुक्र या चंद्र में से एक भी ग्रह की उपस्थिति हो, तो संतान प्राप्ति होती है। ऐसे ही पाँचवें भाव में मेष, वृष या कर्क राशि में केतू विराजमान हो, तो सरलता से संतान की प्राप्ति होती है।कुंडली में यदि लग्नेश और नवमेश सातवें भाव में स्थित हों, तो संतान प्राप्त होती है। इसी प्रकार लग्नेश पर बृहस्पति की शुभ दृष्टि को भी दस अृष्टि से लाभदायक माना जाता है।यदि नवम भाव में गुरू, शुक्र और पंचमेश की उपस्थिति हो, तो इसे उत्तम संतान योग माना जाता है। ज्योतिष के अनुसार लग्न से पंचम भाव शुक्र और चंद्रमा के वर्ग में स्थित हों और चंद्रमा से संबंधित हो, तो ऐसे योग से अनेक संतान प्राप्ति होने की संभावना होती है, परंतु इसी स्थिति में यदि अशुभ गृहों की कुदृष्टि हो, तो संतान प्राप्ति में बाधा उत्पन्न होती है। पाँचवें भाव में यदि वृष, सिंह, कन्या या वृश्चिक राशि सूर्य के साथ में हों आठवें भाव में शनि तथा लग्न स्थान पर मंगल की उपस्थिति हो, तो संतान प्राप्त करने में विलंब होता है। संतान प्राप्ति के संबंध में ज्योतिष में पंचम भाव को अधिक महत्व दिया जाता है। इसका कारण यह है कि पंचम भाव संतान भाव भी कहलाता है। गुरू पंचम भाव का कारक ग्रह है, गुरू इस भाव का कारक होने के कारण संतान, ज्ञान और सम्मान प्रदान करता है। संतान प्राप्ति के लिए पंचम भाव का विशेष महत्व है, कुंडली में यदि इस योग में अशुभता हो, तो यह संतान से वियोग का कारण बनता है। संतान के संबंध में पंचमेश तथा अष्टमेश का परिवर्तन योंग अशुभ योग माना जाता है। ऐसा योग संतान को उसकी पैतृक संपत्ति से दूर करता है। व्यक्ति स्वयं से असंतुष्ट और दुखी रहता है। यह योग स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल प्रभाव डालता है। ज्योतिष के अनुसार संतान प्राप्ति के उपाय – यदि किसी की कुंडली में सूर्य ग्रह नीच व शत्रु आदि राशि, नवांश में अशुभ फल देने वाला, अस्त भावों से युक्त होकर पंचम भाव में स्थित हो, तो संतान प्राप्ति में निश्चित तौर पर बाधा उत्पन्न होती है। ऐसे में यदि योग कारक ग्रह की पूजा  की जाए, उसे दान, हवन आदि से शांत किया जाए, तो यह उपाय बाधा को हरने वाला सिद्ध होता है और संतान का सुख प्रदान करता है। फल दीपिका के अनुसार देखें – एवं हि जन्म समये बहुपूर्वजन्मकर्माजितं दुरितमस्य वदन्ति तज्जाः। ततद ग्रहोक्त जप दान शुभ क्रिया भिस्तददोषशान्तिमिह शंसतु पुत्र सिद्धयै।। इसका अर्थ है कि हम जन्म कुंडली से से यह जान सकते हैं कि पूर्व में हमने ऐसे कौन से पाप किए हैं कि इस जन्म में हमें संतानहीनता का सामना करना पड़ रहा है। बाधाकारक ग्रहों अथवा उनके देवताओं की पूजा जाप, दान व हवन आदि शुभ क्रियाओं को करने से पुत्र की प्राप्ति होती है। यदि संतानहीनता का कारण सूर्य है, तो यह पितृ पीड़ा है। पितरों की शांति हेतु गयाजी में पिंड दान करना चाहिए। हरिवंश पुराण को सुनना लाभकारी रहता है। सूर्य रत्न माणिक्य धारण करें, अवश्य ही लाभ होगा। रविवार के दिन सूर्योदय के बाद गेंहू, गुड़, केसर, लाल चंदन, लाल वश्त्र, तांबा, सोना और लाल रंग के फलों का दान करना चाहिए, ऐसा करने से शीघ्र ही संतान की प्राप्ति होती है। सूर्य के बीज मंत्र ‘ओम हृां हृीं हृों सः सूर्याय नमः’ का 7000 बार जाप करने से सूर्य कृत अनिष्टों से मुक्ति मिल जाती है। रविवार को मीठा व्रत रखने, गायत्री मंत्र का जाप करने तथा तांबे के पात्र में जल, लाल चंदन, लाल पुष्प  डालकर नित्य सूर्य को अध्र्य देने से भी संतान का सुख प्राप्त होता है। बेलपत्र की जड़ को विधिपूर्वक रविवार को लाल डोरी में पिरोकर धारण करने से भी इस संबंध में लाभ होता है। वर्तमान में भी कुछ लोग ऐसे हैं, जिनका मानना है कि बंश को आगे बढ़ाने के लिए लड़कों की आवश्यकता होती है। आज वह समय है, जब लड़कियाँ भी लड़कों के न केवल कदम से कदम मिलाकर चल रहीं है अपितु कुछ क्षेत्रों में तो लड़कों से भी आगे निकल गईं हैं। लोग पुत्र प्राप्ति के लिए विभिन्न प्रकार के तंत्र–मंत्र–यंत्र का प्रयोग करने से भी नहीं चूकते, जो उन्हें लाभ के स्थान पर हानि भी पहँचा सकता है। ज्योतिष में पुत्र प्राप्ति के लिए अत्यन्त ही सरल उपाय सुझाए गए हैं। ऐसे ही एक सरल मंत्र को देखिए – श्री गणपति जी की मूर्ति पर पुत्र प्राप्ति की इच्छा रखने वाली महिला प्रतिदिन स्नानादि से निवृत होने के पश्चात एक महीने तक इस मंत्र का जाप करे – ‘ ॐ पार्वतीप्रियनंदनाय नमः’ इस मंत्र की प्रतिदिन 11 माला जपने से अवश्य ही संतान की प्राप्ति होती है। संतान प्राप्ति कब होगी 2022?संतान पक्ष क्या होता है?संतान सुख कब मिलेगा?कौन सी राशि को पुत्र प्राप्त होगा? Any other Enquiry Call and Wahtsapp +91 9950528152 You Want to Buy this Product discuss with pandit ji he will guide you how to buy and use this product. Click Here To Call

0 Comments
Read more about the article संतान प्राप्ति के योग – पुत्र प्राप्ति के योग कैसे बनते हैं ?
santan-prapti-ke-yog-jyotish-totke

दुर्गा वशीकरण मंत्र – Durga Vashikaran Mantra

दुर्गा वशीकरण मंत्र दुर्गा वशीकरण मंत्र: वशीकरण अर्थात सम्मोहन या आकर्षण प्रयोग के विविध मंत्रों में देवी दुर्गा वशीकरण मंत्र भी विशिष्ट व अचूक प्रभाव वाले होते हैं। उनके कुछ सरलता के साथ सामान्य जाप किए जाते हैं, तो कुछ पूरी तरह से विधि-विधान के साथ विशेष वैदिक या तांत्रिक अनुष्ठान के बाद प्रयोग में लाए जाते हैं। इसके प्रयोगों से अगर स्वाभाव, आचरण  या व्यवहार से अनियंत्रत हो चुके किसी व्यक्ति को अपने नियंत्रण में लाया जा सकता है तो रूठे निकट संबंध के व्यक्ति का मान-मनव्वल भी संभव है। वैचारिक और भावनात्मक मतभेद से बिगड़े चुके दांपत्य संबंध हों या फिर अनैतिकता की राह पर भटके हुए परिवार का कोई सदस्य, उन्हें सही…

0 Comments
Read more about the article दुर्गा वशीकरण मंत्र – Durga Vashikaran Mantra
Jyotish-totke-Astrologer-Secret-Enemy-Destroyer-Totke